सरकारी योजना/भर्ती ग्रुप

Pradhanmantri Fasal Bima Yojana 2024: राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना में आवेदन शुरू, जल्दी बिमा कराये

राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना: भारत में खेती किसानों की जीवनरेखा है, लेकिन प्राकृतिक आपदाओं के कारण उनकी फसलें अक्सर खतरे में पड़ जाती हैं। बेमौसम बारिश, बाढ़, और चक्रवात जैसी आपदाएँ किसानों की मेहनत को बर्बाद कर सकती हैं। इन चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए, केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) 2024 शुरू की है। इस योजना का उद्देश्य किसानों को फसल नुकसान के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करना है।

राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना (PMFBY) क्या है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले फसल नुकसान से आर्थिक सुरक्षा देना है। इस योजना के तहत किसानों को उनकी फसल का बीमा कवर मिलता है, जिसमें वे एक मामूली प्रीमियम का भुगतान करते हैं और बाकी राशि सरकार द्वारा वहन की जाती है। यदि फसल खराब हो जाती है, तो बीमा कंपनी किसान को मुआवजा देती है, जिससे वे अपनी अगली फसल के लिए पुनः निवेश कर सकते हैं।

PMFBY 2024 की मुख्य विशेषताएँ

  1. विस्तृत कवरेज: योजना के तहत खाद्यान्न और नकदी फसलों सहित कई प्रकार की फसलें शामिल हैं।
  2. सस्ती प्रीमियम दरें: किसान केवल न्यूनतम प्रीमियम का भुगतान करते हैं, और बाकी सरकार द्वारा सब्सिडी दी जाती है।
  3. समग्र सुरक्षा: यह योजना प्राकृतिक आपदाओं, कीटों और बीमारियों के कारण होने वाले फसल नुकसान को कवर करती है।
  4. सरल दावा प्रक्रिया: दावा प्रक्रिया को सरल और तेज़ बनाया गया है ताकि किसानों को समय पर मुआवजा मिल सके।

PMFBY 2024 के तहत कवर की जाने वाली फसलें

PMFBY योजना के तहत कई प्रकार की फसलें शामिल हैं। यहां उन फसलों की सूची दी गई है जो इस योजना के अंतर्गत बीमा कवर के लिए योग्य हैं:

खाद्यान्न फसलें

  • अनाज: गेहूं, बाजरा, चावल
  • दालें: चना, मटर, मूंग, उड़द
  • तिलहन: सरसों, मूंगफली, सोयाबीन, सूरजमुखी

नकदी फसलें

  • कपास
  • गन्ना

बागवानी फसलें

  • फल: अंगूर, केला, आम, अमरूद, पपीता
  • सब्जियाँ: टमाटर, आलू, प्याज, फूल गोभी
  • मसाले: अदरक, हल्दी, इलायची

Read more: Ladli Behna Yojana 14th Installment check: 1.29 करोड़ बहनों के 5 जुलाई को खाते में आएगा 14वी किस्त का पैसा

PMFBY 2024 के लिए पात्रता मानदंड

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को कुछ पात्रता शर्तों को पूरा करना होगा:

  1. भूमि स्वामित्व: किसान के पास अपनी भूमि होनी चाहिए या किराए की भूमि होनी चाहिए।
  2. आर्थिक स्थिति: यह योजना मुख्य रूप से आर्थिक रूप से कमजोर और पिछड़े किसानों को लक्षित करती है।
  3. नागरिकता: आवेदक भारतीय नागरिक होना चाहिए।
  4. आवश्यक दस्तावेज: किसानों को आवेदन के लिए आधार कार्ड, बैंक पासबुक, पैन कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, भूमि दस्तावेज, और मोबाइल नंबर जैसे सभी आवश्यक दस्तावेज प्रस्तुत करने होंगे।

PMFBY 2024 के लिए आवश्यक दस्तावेज़

PMFBY के लिए आवेदन करते समय निम्नलिखित दस्तावेज़ आवश्यक हैं:

  • आधार कार्ड: पहचान सत्यापन के लिए।
  • बैंक पासबुक: मुआवजा प्राप्त करने के लिए बैंक विवरण।
  • पैन कार्ड: वित्तीय सत्यापन के लिए।
  • निवास प्रमाण पत्र: निवास सत्यापन के लिए।
  • भूमि स्वामित्व दस्तावेज़: भूमि स्वामित्व या पट्टे का प्रमाण।
  • मोबाइल नंबर: संचार और अपडेट के लिए।

राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना 2024 के लिए आवेदन कैसे करें?

PMFBY 2024 के लिए आवेदन करना बहुत ही आसान है। निम्नलिखित चरणों का पालन करें:

  1. आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं: PMFBY की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  2. किसान सेक्शन: होमपेज पर ‘Farmer’ विकल्प पर क्लिक करें।
  3. गेस्ट फार्मर: ‘Guest Farmer’ लिंक चुनें।
  4. आवेदन पत्र भरें: आवेदन पत्र में सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करें।
  5. दस्तावेज़ अपलोड करें: आवश्यक दस्तावेज़ अपलोड करें।
  6. प्रपत्र सबमिट करें: सभी जानकारी दर्ज करने और दस्तावेज़ अपलोड करने के बाद, ‘Submit’ बटन पर क्लिक करें।

राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना के लिए पंजीकरण कैसे करें?

PMFBY के लिए पंजीकरण करने के लिए, निम्नलिखित चरणों का पालन करें:

  1. PMFBY पोर्टल पर जाएं: PMFBY की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  2. रजिस्टर पर क्लिक करें: होमपेज पर ‘Register’ विकल्प पर क्लिक करें।
  3. स्टेकहोल्डर जानकारी भरें: आवश्यक स्टेकहोल्डर और श्रेणी की जानकारी दर्ज करें।
  4. खाता बनाएँ: ‘Create’ पर क्लिक करें और पंजीकरण प्रक्रिया पूरी करें।

निष्कर्ष

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2024 किसानों को फसल नुकसान से आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने की एक महत्वपूर्ण पहल है। यह योजना किसानों को उनके निवेश की सुरक्षा देती है और सुनिश्चित करती है कि वे फसल नुकसान के बावजूद अपनी कृषि गतिविधियों को जारी रख सकें। PMFBY का हिस्सा बनना प्रत्येक किसान के लिए उनके भविष्य को सुरक्षित करने और राष्ट्र की खाद्य सुरक्षा में योगदान देने का एक महत्वपूर्ण कदम है।

Read more: E Shram Card Pension Yojana 2024: ₹3000 मासिक पेंशन ई-श्रम कार्ड धारकों को मिलेगी, ऐसे करना होगा आवेदन

Leave a comment